बंपर गुड न्यूज, घर में दादा-दादी और बुजुर्ग हैं तो मिलेंगे 10 हजार, मोदी सरकार का नया योजना।

361

आप जानते हैं कि हमारी केंद्र और राज्य सरकार हर दिन एक नई योजना लागू कर रही है। यह कहना गलत नहीं है कि देश लोगों के हित के लिए देश में नई योजना और पुरानी योजना में बड़े बदलाव कर रहा है। अब आप जानते हैं कि केंद्र सरकार देश में वरिष्ठ नागरिकों को उनके स्वास्थ्य और जरूरतों को पूरा करने के लिए हर महीने पेंशन का पैसा दे रही है, और देश में अरबों वरिष्ठ नागरिक हैं जो केंद्र सरकार की पेंशन प्राप्त कर रहे हैं।

अब केंद्र सरकार ने पुरानी योजना में बड़ा बदलाव करने का फैसला किया है जिसका श्रेय लोगों की खुशी का कारण बन रहा है। तो अब हम आपको इस बारे में पूरी जानकारी देते हैं कि एक बड़ा बदलाव क्या है और हमें बताएं कि आप इसके बारे में क्या सोचते हैं। जी हाँ दोस्तों, केंद्र सरकार के मानसून सत्र के दौरान वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक नए विधेयक को पारित करने पर निर्णय लेने की संभावना है। अब आप जानते हैं कि केंद्र सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों के स्वास्थ्य को देखते हुए पहले से ही कई योजनाओं में बड़े बदलाव किए हैं।

मॉनसून सत्र में माता-पिता और वरिष्ठ नागरिक कल्याण और रखरखाव विधेयक पर बड़ा फैसला ले सकते हैं। सोमवार से शुरू हो रहे इस सत्र में माता-पिता और वरिष्ठ नागरिक कल्याण विधेयक के लागू होने की संभावना है। विधेयक 2019 की पुष्टि कर दी गई है, और विधेयक का मुख्य उद्देश्य माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों के वृध्दाश्रम के नामांकन को रोकना है। यह अब मसूदयान के नागरिकों का पालन और पोषण करने का अवसर है।

बिल वरिष्ठ नागरिकों के लिए अधिक सुरक्षा प्रदान करता है। विधेयक, यदि पारित हो जाता है, तो माता-पिता की देखभाल और पालन-पोषण के लिए गुजारा भत्ता के रूप में दसियों हजार रुपये प्रदान करेगा। यह राशि माता-पिता की आय को ध्यान में रखते हुए तय की गई है। मित्र कह सकते हैं कि निकट भविष्य में बिल के बारे में और जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। दोस्तों इस बिल पर अपनी राय हमें बताएं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.